Call Barring Meaning In Hindi

Spread the love

बहुत सारे लोगों को call barring का meaning पता है, पर बहुत सारे लोग Phone के इस फीचर के बारे में पता नहीं होता है, तो वो लोग तुरंत google पर सर्च करते है। आज के इस लेख को मैं इसी मतलब से लिख रहा हूँ कि जिनको call barring setting के  बारे में पता नहीं है वो इसे पढ़कर call बारिंग का meaning हिंदी भाषा में आसानी से जान पाएंगे कि असल में कॉल बारिंग क्या होता है।

Call Barring Meaning In Hindi

Call barring क्या है ?

कॉल बारिंग का सीधा मतलब है कि call को रोकना।  किसी भी कॉल को रोकने के लिए मोबाइल फ़ोन के सेटिंग में Call barring का विकल्प होता है। यह कॉल चाहे incoming हो या outgoing आप इसी विकल्प के द्वारा इसे enable या disable कर सकते हैं।

कॉल बैरिंग एक ऐसी प्रक्रिया है जिसके तहत एक टेलीफोन ग्राहक अपनी लाइन पर कॉल करने से फोन नंबरों पर प्रतिबंध लगाता है।

इसलिए, कॉल बैरिंग या तो एक निश्चित नंबर को आपको कॉल करने से रोक सकता है या सभी इनकमिंग या आउटगोइंग कॉलों पर प्रतिबंध लगा सकता है।

Call barring setting कैसे करते हैं ?

Call barring के सेटिंग के लिए अलग अलग नेटवर्क के code अलग अलग होते हैं। आप इसे अपने मोबाइल फ़ोन के setting में जाकर भी कर सकते हैं पर इसमें भी अलग अलग मोबाइल में अलग अलग setting procedure होते हैं।

  • सबसे पहले आप अपने android फ़ोन के Dialer pad को खोले और इस तरह तीन लाइन बने हुए symbol (≡) पर क्लिक करें उसके बाद setting के option पर क्लिक करें।
  • इसके बाद advance setting पर क्लिक करें।
  • फिर आपको call barring विकल्प दिख जायेगा उसपर क्लिक करें।
  • आपको सिम सेलेक्ट करने का ऑप्शन मिलेगा आप जिस भी सिम पर कॉल बारिंग करना चाहते हैं उसे चुने।
  • सिम सेलेक्ट करने के बाद आपको विकल्प जैसे- All Outgoing Calls,International Outgoing Calls, All Incoming Calls आदि इसमें से आप जिसे bar करना चाहते हैं उसे चुनें।
  • इसे करने के बाद आपको call barring password माँगा जायेगा। ज्यदातर operators ke password इसमें (0000 या 1234) होता है इसे डालने के बाद आप ok पर क्लिक करें। आपका call barring on हो जायेगा।
  • फिर यदि आप इसे बंद करना चाहते हैं तो जहाँ से on किए हैं वहीं जाकर off कर सकते हैं।

Call barring कितने प्रकार के होते हैं ?

Call barring मुख्यतः चार प्रकार के होते हैं।

1 All Incoming Calls- इस option को on करने पर आपके पास आने वाले सारे calls बंद कर दिये जायेंगे जो भी आपको कॉल करना चाहेगा वह आपको कॉल नहीं कर सकेगा।

2. All Outgoing Calls- इस ऑप्शन को enable करने के बाद आपके पास आने वाले कॉल तो आपके पास आएंगे ही पर आप किसी को call back नहीं कर सकेंगे ।

3. International Outgoing Calls- इस ऑप्शन को इनेबल करने के बाद आप राष्ट्रीय स्तर पर कॉल कर सकते हैं परंतु अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कॉल नहीं कर सकते हैं क्योंकि इस ऑप्शन के द्वारा आपके सारे  अंतरराष्ट्रीय स्तर की कॉल को रोक दिया जाता है।

4.Incoming Calls While Roaming- कॉल बैरिंग ऑप्शन में से यह सबसे अच्छा एवं महत्वपूर्ण विकल्प है क्योंकि रोमिंग के दौरान हमें इनकमिंग कॉल के लिए शुल्क देना पड़ता है पर यदि हम इस ऑप्शन को इनेबल कर देते हैं तो हमारे पास आने वाले सभी इनकमिंग कॉल्स को रोक दी जाएगी

Airel  के call barring को कैसे activate और deactivate करते हैं ?

आप अपने एयरटेल लाइन पर सभी इनकमिंग कॉल या आउटगोइंग कॉल्स को रोकने के लिए आसानी से एयरटेल कॉल बैरिंग कोड का उपयोग कर सकते हैं। हालाँकि, यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि एक बार इस सेवा को सक्रिय करने के बाद:

  • आपको कॉल प्राप्त करने या करने से रोकता है
  • आप अपने डेटा का उपयोग करने या अपनी एयरटेल लाइन के साथ एसएमएस भेजने में भी सक्षम नहीं होंगे।

नोट: एयरटेल पर कॉल बैरिंग के लिए डिफ़ॉल्ट पासवर्ड 0000 है ।

इसका उपयोग करने में सक्षम होने के लिए आपको इस डिफ़ॉल्ट पासवर्ड को बदलना होगा। ऐसा करने के लिए बस *03*330*पुराना बैरिंग कोड*नया बैरिंग कोड*नया बैरिंग कोड# डायल करें। उदाहरण के लिए, यदि आप 0000 से 1234 में बदलना चाहते हैं, तो आप *03*330*0000*1234*1234# डायल करेंगे।

यदि आप ये सब झंझट से बचना चाहते हैं तो आप सीधे Airtel Customer Care को कॉल करें वो आपको निर्देशन देंगे उसी प्रकार आप उनके निर्देशन का पालन करें।
Call Barring के फायदे (Benefits of Call Barring) –

Spread the love

Leave a Comment