IMPS full form in Hindi |यह कैसे काम करता है?

 आज हम digital युग में प्रवेश कर चुके हैं। बहुत सारे कामों का digitalization हो चूका है। आज हमलोग उन्ही में से एक प्रणाली जिसे की बैंकिंग कहते है उसके एक हिस्से जिसे कि IMPS कहा जाता है उसके बारे में जानेंगे। IMPS बैंकों में धन हस्तांतरण की एक प्रणाली है। पहले के ज़माने में लोग फिजिकल रूप में धन को  लेन देन करते थे जिसमे कि काफी मेहनत और समय की खपत हो जाती थी परन्तु आज के इस computer और internet के युग में ये सारा काम पलक झपकते ही हो जाता है और हम अन्य कामों के लिए अपना समय बचा पाते  हैं। आगे हमलोग बिना देरी किये जानते हैं कि IMPS क्या है और यह कैसे काम करता है ? IMPS full form in Hindi क्या है।?

IMPS full from in hindi

 

 

IMPS full form in Hindi

 
IMPS का फुल फॉर्म immediate Payment Service होता है जिसे हिंदी में तत्काल भुगतान सेवा कहते हैं। यह सेवा देश के शीर्ष बैंक, भारतीय रिज़र्व बैंक एवं भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम के द्वारा उपलब्ध कराया गया तंत्र है। इस तंत्र को NPCI (National Payment Corporation of India)के द्वारा नवंबर 2010  में चार प्रमुख बैंकों के साथ शुरू किया गया।  अभी IMPS सेवा 150 बैंकों तक बढ़ गया है।  IMPS आपातकालीन स्थिति में fund transfer करने का एक बेहतरीन विकल्प है यह सेवा चौबीसों घंटे उपलब्ध रहता है और तुरंत फण्ड ट्रांसफर करता हैं। 
 
इस plateform से पैसे ट्रांसफर करें से शुल्क भी काफी कम लगते हैं।  यह अति सुविधा जनक तो तब और हो जाता है जब यह मोबाइल device से हो जाता है। IMPS में फण्ड ट्रांसफर करने की सीमा  भी दो लाख रूपये तक है जो काफी है। 
 

आइएमपीएस के लाभ(Benefits of IMPS)

1.झटके में पैसा ट्रांसफर -RTGS  पैसा ट्रांसफर करने के लिए 3 से 4 घंटा लगा   देता है  पर IMPS  एक ही झटके में कुछ सेकंड के अंदर दूसरे व्यक्ति के account में पैसा ट्रांसफर कर देता है  यह real time पैसा ट्रांसफर करता है .

 

2.24 * 7 सेवा  – RTGS सेवा भी रियल टाइम मनी ट्रांसफर करता है परंतु यह केवल बैंकिंग के दौरान ही संभव है जहां आइएमपीएस छुट्टी के दिनों में, रात में या किसी भी टाइम में रियल टाइम मनी ट्रांसफर करता है।

 

3.फंड ट्रांसफर लिमिट– RTGS का मिनिमम transaction ₹200000 से 1000000 रुपए तक होती है परंतु आइएमपीएस में ₹1 से लेकर

₹200000 तक की सुविधा प्रदान की जाती है।  ज्यादातर व्यक्ति दो लाख से दस लाख  रुपए ट्रांसफर नहीं करते हैं

इससे आम जनों को सुविधा मिलती है 

 

4.उपलब्धता -आई एम  पीएस  से फंड ट्रांसफर करने के लिए बहुत सारे विकल्प मौजूद हैं जैसे कि ATM नेट बैंकिंग, मोबाइल

एप्लीकेशन,SMS और USSD इन सारे चैनलों से आप आराम से फंड ट्रांसफर कर सकते हैं।

 

5.P2P फण्ड ट्रांसफर – IMPS बहुत सारे इ-कॉमर्स में payment करने के लिए भी प्रयोग किये जाते है एवं अन्य पेमेंट्स जैसे कि

utility bills,ट्रेवल टिकट्स और mobile recharge के लिए भी कर सकते हैं। 

 

6.NRI फण्ड ट्रांसफर -इस सेवा के द्वारा NRI कस्टमर Indian Residents को भी फण्ड ट्रांसफर कर सकते हैं 

 

Leave a Comment