सिरका(Vinegar) क्या होता है:वाइट Vinegar क्या होता है ?

दोस्तों,सिरका का उपयोग बहुत प्रचीन काल से होता आ रहा  है। आज कल भी  हमलोग अपने व्यंजनों में सिरका का प्रयोग करते हैं। दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमलोग यह जानेंगे कि सिरका क्या है और इसकी उपयोगिता क्या है ?यदि आप भी नहीं जानते हैं कि सिरका क्या है तो चलिए आगे हम इसे विस्तार से जानेंगे। 

सिरका क्या है ?

सिरका, पानी में एसिटिक एसिड(ethanoic) का एक घोल है। एसिटिक एसिड का निर्माण  बैक्टीरिया के द्वारा एथेनॉल का ऑक्सीकरण करके बनाया जाता है। जिसमे जैसे की जामुन का सिरका बनाने के लिए खमीर(yeast ) द्वारा जामुन के शर्करा (मिठास ) का  किण्वन(Fermentation ) कराया जाता है उस प्रोसेस में  एथेनॉल का उत्पादन होता है और जब एथेनॉल का ऑक्सीकरण किया जाता है तो एसिटिक एसिड बनता है। 
साधारण शब्दों में सिरका एक खट्टा तरल है जो  चीनी युक्त पदार्थो के किण्वित होते से बनता है जैसे की जामुन,गन्ना और सेव। 

सिरका का उपयोग –

सिरका का उपयोग मसाले के रूप में स्वाद जोड़ने के लिए  या अचार बनाने के लिए किया जाता है। यह व्यंजनों में थोड़ा खट्टा टेस्ट और खट्टा सुगंध देता है और अच्छा फ्लेवर देता है। घरेलु उपयोग के लिए काफी मात्रा में सिरका का रखाव किया जाता है UK और USA में  सबसे व्यापक रूप से साइडर सिरका का उपयोग किया जाता है। आयरलैंड में माल्ट सिरका का और अंगूर उगाने वाले देश इटली, फ्रांस और स्पेन में वाइन सिरका का उपयोग किया जाता है। पूर्व के देशो में पारम्परिक चावल के सिरके के अलावा सिंथेटिक सिरका आम है। 
सिरका सब्जी और मांश उत्पादों में स्वाद जोड़ता है। यह सलाद ड्रेसिंग और सॉस जैसे टबैस्को और टमाटर के उत्पादों में डाला जाता है। इन सबमे तेल और नमक के साथ मिलकर vinaigrette बनाता है और इसे मांस, मछली और अन्य खाद्य पदाथों के साथ इस्तेमाल किया जाता है।    

सिरके कई प्रकार के होते हैं –

इनमे सभी के स्वाद अलग अलग होते हैं और कुछ के स्वाद काफी तीखे होते हैं। खाना पकने में उनका उपयोग उनके स्वाद एवं उनके अवयवों पर निर्भर करता है। 

1.बालस्मिक vinegar-

यह डार्क ब्राउन रंग का होता है।  इसे अंगूरों को दबाकर बनाया जाता है जिसमे अंगूरों को लकड़ी के बैरल में फेरमेंटशन के लिए छोड़ दिया जाता है इसकी अवधी बहुत सालों लम्बी होती है। और अंत में बहुत अच्छा सिरका प्राप्त होता है। यह सनबर्न या फफोले होते पर भी स्किन के लिए प्रयोग किया जाता है। 

2. साइडर vinegar –

यह ज्यादातर सेव से बनता है पहले सेव को कूट लिया जाता है फिर उसमे यीस्ट शुगर और कार्बोहायड्रेट मिलाकर बनाया जाता है। कुछ सप्ताह बाद ये अलकोहल में बदल जाता है और फिर सिरका में परिणत हो जाता है।  

3. डिस्टिल्ड वाइट –

वाइट विनेगर या डिस्टिल्ड विनेगर गन्ने के रस से बनाया जाता है। इसमें गन्ने का फर्मेंटेशन किया जाता है और उसे ऑक्सीकरण के लिए छोड़ दिया जाता है। ये ज्यादातर खाना पकाने में प्रयोग होता है यह घर को साफ़ सफाई रखने के लिए भी उपयोग में लाया जाता है। 

माल्ट vinegar –

माल्ट सिरका जौ के माल्टेड अनाज से बना होता है। इसमें तीखा स्वाद होता है और यह अन्य खाद्य पदार्थों के स्वाद को बढ़ाने में मदद कर सकता है। यह मछली और चिप्स टॉपिंग के लिए सबसे अच्छी तरह से जाना जाता है।माल्ट सिरका उसी अनाज से उत्पन्न होता है जो बीयर बनाने के लिए उपयोग किया जाता है, और इसलिए इसमें माल्टेड द्रव्य  के समान एक समान नींबू, अखरोट और कारमेल के स्वाद मुख्या रूप से मिलते है।इसका रंग हल्के से लेकर गहरे भूरे रंग तक हो सकता है।

चावल vinegar –

चावल का सिरका एक हल्का मीठा और खट्टा सिरका होता है जिसका उपयोग अक्सर एशियाई खाना पकाने में किया जाता है। चावल का सिरका बनाने के लिए केवल चावल को पानी में उबाल कर शराब बनाना है। इस चावल के अल्कोहल को फिर से एसिटिक एसिड में किण्वित किया जाता है। इसका परिणाम एक खट्टा तरल होता है जिसे आमतौर पर सुशी सहित कई व्यंजनों में जोड़ा जाता है।

शेरी vinegar-

शेरी सिरका एक प्रकार का वाइन सिरका है, जो कभी-कभी hard रेड वाइन सिरका की तुलना में नरम स्वाद वाला होता है, लेकिन बाल्समिक से कम मीठा होता है। असली शेरी सिरका स्पेन से आयात किया जाता है, और शेरी वाइन से बनाया जाता है जो कम से कम छह महीने के लिए बैरल में रहता है । दो साल या उससे अधिक उम्र के शेरी सिरका को “रिज़र्व” लेबल किया जाता है और यहां तक ​​​​कि एक “ग्रेन रिजर्व” प्रकार भी होता है जो 10 साल से ऊपर की उम्र में होता है।
दोस्तों वैसे तो सिरका बहुत  प्रकार का होता है पर मैंने यहाँ ऊपर कुछ विनेगर के बारे में बताया है जो साधारणतः ज्यादातर प्रयोग में लाये जाते हैं।  आशा है कि आपको यह जानकारी अच्छी लगी होगी यदि आप इससे सम्बंधित और कुछ जानना चाहते हैं तो कमेंट करके बताएं। 

Leave a Comment